भारत और चीन के बीच चल रहे तनाव पर नेपाल ने कहा, दोनों देशों के मतभेदों पर एशिया का भविष्य है निर्भर

Estimated read time 1 min read

काठमांडू। गलवन घाटी में हुई खूनी झड़प के बाद से भारत और चीन के बीच चल रहे तनाव पर अब नेपाल ने इस मुद्दे पर अपनी राय जाहिर की है। नेपाल के विदेश मंत्री प्रदीप ग्यावली ने कहा कि चीन का उदय और भारत के उभरने की चाहत, वे किस तरह से अपने सहयोग को बढ़ाते हैं और मतभेद सुलझाते हैं। एशिया और इस क्षेत्र का भविष्य इसी बात पर निर्भर करेगा। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि वुहानसमिट के बाद भारत और चीन के बीच सहयोग में गहराई थी। हालांकि गलवन घाटी में हुई झड़प के बाद दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया। दोनों देश अपने तरफ से तनाव कम करने की भरपूर कोशिश कर रहे हैं, लेकिन यह काफी चुनौतीपूर्ण है।
बता दें कि पूर्वी लद्दाख में मई के पहले हफ्ते में कई जगहों पर चीनी सैनिकों के एलएसी का अतिक्रमण करने से विवाद शुरू हुआ था। वहीं, 15 जून को दोनों देशों के सैनिको के बीच खूनी झड़प हुई थी। इसके बाद तनाव घटाने की पहल शुरू होने से पूर्व दोनों देशों के बीच सैन्य और कूटनीतिक स्तर पर कई दौर की वार्ताएं हो चुकी हैं।
Ranjanapandey

You May Also Like

More From Author