Homeदेशअयोध्या में राम मंदिर निर्माण से देश में धार्मिक पर्यटन को मिलेगी...

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण से देश में धार्मिक पर्यटन को मिलेगी रफ्तार

राम मंदिर के निर्माण से अयोध्या के आसपास पर्यटन में तो तेजी आएगी और इससे पूरे देश में धार्मिक पर्यटन को रफ्तार भी मिलेगी। अभी भी देश में हर दूसरा घरेलू पर्यटक धार्मिक यात्रा पर ही जाता है, इसलिए सरकार इसे और बढ़ावा देने की कोशिश कर रही है।
सरकार के अनुमान के अनुसार भारत में होने वाले घरेलू पर्यटन का करीब 60 फीसदी हिस्सा धार्मिक ही होता है। हर दो में से एक भारतीय घरेलू पर्यटक तीर्थयात्रा या धार्मिक स्थलों की यात्रा पर जाता है। इसलिए सरकार अब धार्मिक स्थलों के बुनियादी ढांचे और अन्य सुविधाओं के विकास पर तेजी से काम रही है।

राम मंदिर का भूमि पूजन समारोह बुधवार को अयोध्या में बड़े पैमाने पर अपग्रेड योजनाओं के साथ बेहतर भविष्य की उम्मीद के बीच आयोजित हो रहा है। सूत्रों के अनुसार अयोध्या में एक नया एयरपोर्ट और एक बेहतरीन रेलवे स्टेशन भी जल्द ही बनेगा और नजदीक राजमार्ग और स्थानीय पर्यटन स्थलों का उन्नयन भी होगा । 500 करोड़ रुपये से अधिक के बजट के साथ उत्तर प्रदेश सरकार ने मंदिरों के इस शहर में कई विकास और सौंदर्यीकरण प्रोजेक्‍ट का ऐलान किया है।

जानिए कितने का है कारोबार
IBEF के अनुसार, भारत के जीडीपी में ट्रैवल और टूरिज्म सेक्टर का योगदान साल 2017 के 15.24 लाख करोड़ रुपये से बढ़कर 2028 तक 32 लाख करोड़ रुपये तक पहुंच जाने का अनुमान है। इसमें से ज्यादातर हिस्सा घरेलू पर्यटन का ही होता है। इसमें से 60 फीसदी हिस्सा धार्मिक पर्यटन का होता है मतलब धार्मिक पर्यटन का कारोबार करीब 10 लाख करोड़ रुपये का है।

पर्यटन मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार 2018 में घरेलू पर्यटकों की संख्या 1.85 अरब थी, जो एक साल पहले के मुकाबले 12 फीसदी ज्यादा है। साल 2019 में भारत में 1.08 करोड़ विदेशी पर्यटक आए थे और इनसे करीब 1.94 लाख करोड़ रुपये की आय हुई थी।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments