मोदी सरकार का बड़ा फैसला, नौकरी के लिए अब केवल एक टेस्ट

Estimated read time 0 min read

Modi opportunityसंवाददाता सम्मेलन में केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने केंद्रीय कैबिनेट की बैठक के बाद कहा, नौकरी के लिए युवाओं को बहुत से टेस्ट देने होते हैं। इसे समाप्त करने के लिए एक ऐतिहासिक फैसला लिया गया है। राष्ट्रीय भर्ती संस्था कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट लेगी जिससे करोड़ों युवाओं को फायदा मिल सके। जावड़ेकर का कहना है की, नौकरी के लिए युवाओं को बहुत परीक्षाएं देनी पड़ती हैं। 20 भर्ती एजेंसियां हैं, ऐसे में हर एजेंसी के लिए परीक्षा देने के लिए कई जगह जाना पड़ता है। इसीलिए अब राष्ट्रीय भर्ती परीक्षा कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट लेगी जिससे करोड़ों युवाओं को लाभ मिलेगा।

सचिव सी चंद्रमौली ने कहा, केंद्रीय सरकार में लगभग 20 से अधिक भर्ती एजेंसियां ​​हैं। फ़िलहाल हम केवल तीन एजेंसियों की परीक्षा कॉमन कर रहे हैं, समय के साथ हम सभी भर्ती एजेंसियों के लिए कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट करेंगे।

You May Also Like

More From Author