एनसीपी नेता मेमन का विवादित बयान, मौत के बाद मोदी-ट्रंप से भी ज्यादा लोकप्रिय हो गए सुशांत

Estimated read time 1 min read

NCPसुशांत सिंह राजपूत केस में ईडी और सीबीआई की जांच जारी है. आए दिन सुशांत के केस में नए मोड़ आ रहे हैं. इस बीच राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) नेता माजिद मेमन को बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले में विवादित बयान दिया है. साथ ही माजिद मेमन ने मीडिया की ओर से उठाए जा रहे इस मुद्दे पर कई सवाल खड़े किए हैं. माजिद मेमन ने कहा कि सुशांत अपने जीवनकाल के दौरान उतने फेमस नहीं थे, जितने कि अपनी मौत के बाद हो गए.एनसीपी नेता और पूर्व राज्यसभा सदस्य माजिद मेमन ने कहा कि प्रधानमंत्री और अमेरिकी राष्ट्रपति से कहीं ज्यादा मीडिया अब सुशांत को स्पेस दे रहा है. माजिद मेमन ने ट्विटर पर लिखा, “सुशांत अपने जीवनकाल के दौरान उतने प्रसिद्ध नहीं थे जितना कि वह मौत के बाद हो गए हैं. मीडिया अब हमारे प्रधानमंत्री और अमेरिकी राष्ट्रपति से कहीं ज्यादा सुशांत को स्पेस दे रहा है.”माजिद मेमन ने एक और ट्विट में लिखा, “जब कोई अपराध जांच चरण में होता है, तो गोपनीयता को बनाए रखना पड़ता है. महत्वपूर्ण सबूत इकट्ठे करने की प्रक्रिया में उठाए जा रहे हर कदम को सार्वजनिक करना सच्चाई और न्याय के हित पर प्रतिकूल प्रभाव डालता है.”उन्होंने आगे लिखा, “सुशांत के मेरे ट्वीट पर इतना शोर है. क्या इसका मतलब यह है कि सुशांत अपने जीवन काल के दौरान लोकप्रिय नहीं थे या उन्हें न्याय नहीं मिलना चाहिए था? हरगिज नहीं. गलतफहमी से बचा जाना चाहिए. ट्वीट किसी भी तरह से अपमान या उसे अपमानित नहीं करता है.”वहीं सुशांत सिंह राजपूत की मौत मिस्ट्री की जांच तो कई दिशाओं में बंटी हुई है, लेकिन इस बीच परिवार ने अपना सारा दर्द एक चिट्ठी लिखकर जाहिर किया है. सुशांत की बहनों और बुजुर्ग पिता को सबसे ज्यादा तकलीफ इस बात की है कि जांच से पहले ही कई लोग इस नतीजे को सही ठहराने की कोशिश में जुट गए कि सुशांत ने खुदकुशी की. सुशांत के परिवार की ये चिट्ठी परिवार के संघर्ष का आइना भी है.

चिट्ठी में सुशांत के परिवार का वो दर्द भी छलक आया जिसका सामना वो सुशांत के जाने के बाद से कर रहा है. इस चिट्ठी में परिवार ने इशारा किया है कि उन पर दबाव बनाया जा रहा है. परिवार ने ये भी याद दिलाया हैकि जो तमाशबीन हैं, वो भी ठीक नहीं कर रहे.Ranjana pandey

You May Also Like

More From Author