हिंदपीढ़ी में हो रहा है लॉक डाउन का पालन , एक युवक की हुई मौत

Estimated read time 1 min read

देशव्यापी लॉक डाउन का आज 15 वा दिन है,रांची के कई हिस्सों में लोगों ने सब्ज़ी खरीदने के लिए भीड़ इक्कठा कर दी जिसको देख कर पुलिस ने सख्ती दिखाई और लोगों की अक्ल ठिक्काने आ गई । कई ऐसे भी जगह है जहाँ लॉक डाउन का पालन सख्ती से करवाया जा रहा है ,जैसे – झारखण्ड की राजधानी रांची के हिंदपीढ़ी में कोरोना से संक्रमित दो लोग मिल चुके है और इसके बाद इस पुरे क्षेत्र को पूरी तरह से सील कर दिया गया है । सूत्रों के अनुसार एसएसपी अनीश गुप्ता खुद मॉनिटरिंग कर रहे हैं और तीन ड्रोन से पूरे हिंदपीढ़ी की निगरानी हो रही है। लोगो को 24 वॉलेंटियर्स की मदद से होम डिलेवरी कर ज़रूरत के सामानो को पहुँचाया जा रहा है । The News Mirchi की रिपोर्ट के अनुसार लॉकडाउन का पालन न करने वाले लोगों पर 55 दारोगा, 5 इंस्पेक्टर और 4 डीएसपी के अलावा 200 जवान नजर रख रहे हैं। हिंदपीढ़ी में प्रशासन की कड़ाई के कारण न ही किसी को अपने घर से निकलने की अनुमति है, और न ही किसी बाहरी व्यक्ति को इस क्षेत्र में दाखिल होने दिया जा रहा है ।

The News Mirchi की रिपोर्ट के अनुसार हिंदपीढ़ी में मंगलवार की शाम को एक 24 वर्षीय युवक किशोर कुमार की मौत हो गई। युवक गुरुनानक स्कूल में चतुर्थ वर्गीय पद पर काम करता था । मंगलवार सुबह किशोर ने सीने में दर्द की शिकायत की जिसके बाद उसे पहले गुरुनानक अस्पताल में ले जाया गया जहाँ डाॅक्टरों ने उसे क्वारेंटाइन करने के लिए रिम्स ले जाने की सलाह दी, लेकिन उसे सदर अस्पताल ले जाया गया । वहाँ पुनः डाॅक्टरों द्वारा परिक्षण कर उसे वापस घर जाने की सलाह दी गई । शाम तक युवक की हालत बिगड़ गई और करीब 6:30 बजे उसकी अकस्मात् मृत्यु हो गई । तत्पश्चात ही प्रशासन ने उस क्षेत्र को सील कर दिया है । किशोर के परिवार का कहना है कि उसे दो दिनों से हल्का बुखार, छाती में दर्द और सांस लेने में भी तकलीफ थी। सिविल सर्जन डाॅ विजय बिहारी प्रसाद का कहना है कि उन्हें शाम में एक युवक की मृत्यु की सूचना मिली थी । उनका ये भी कहना है की शव काे मंगाकर इसकी जांच की जाएगी। युवक और उसके परिवार की चार दिनो पहले ही स्क्रीनिंग की गई थी।

You May Also Like

More From Author