बयानबाजी छोड़ गरीब कल्याण अन्न वितरण योजना को धरातल पर उतारे हेमंत सरकार- दीपक प्रकाश

Estimated read time 0 min read

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद दीपक प्रकाश ने हेमंत सरकार पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि हेमंत सरकार की जन वितरण व्यवस्था ध्वस्त है,इसमें बिचौलियों और मुनाफाखोर लोगों की भरमार है।और ऐसे लोगों को राज्य सत्ता का संरक्षण भी प्राप्त है।श्री प्रकाश आज प्रदेश कार्यालय में प्रेसवार्ता को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार की गरीब कल्याण अन्न योजना का पूरे देश की जनता स्वागत कर रही है,गरीबों ,मजदूरों ,जरूरत मंदों के चेहरे पर राहत की खुशी है ऐसे में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का बयान गैर जिम्मेदाराना है।

उन्होंने कहा कि हेमंत सरकार अपनी जिम्मेवारी से भागना चाहती है।विगत तीन महीनों का अनुभव यह बताता है कि गोदामों में अनाज भरे पड़े है परन्तु गरीब जनता अनाज केलिए तरस रही है। भूख से मौत की खबर भी आईं। उन्होंने कहा कि जुलाई से नवंबर तक फिर से केंद्र सरकार ने 5 महीनों केलिए प्रति व्यक्ति 5 किलो चावल या गेहूं और 1 किलोग्राम चना देने की योजना शुरू की है।1.50लाख करोड़ की इस योजना से देश के 80 करोड़ जरूरत मंद गरीब लाभान्वित होंगे।
झारखंड में भी 60 लाख से ज्यादा परिवार इस योजना से जुड़ेंगे।
श्री प्रकाश ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी गरीबों के हमदर्द,मसीहा है। कोविड 19 संक्रमण काल में जिस प्रकार उन्होंने सेनापति की भूमिका निभाई उससे आज देश इस महामारी में विश्व के विकसित देशों की तुलना में कहीं ज्यादा सुरक्षित है।
कहा कि प्रधानमंत्री ने कोरोणा निदान और गरीब कल्याण दोनों को साथ साथ चलाया। भाजपा ने राष्ट्रीय अध्यक्ष के नेतृत्व में सेवा ही संगठन इस भाव से लाखों गरीबों तक मोदी आहार,अनाज मास्क,सैनिटाइजर पानी,चप्पल,आदि का वितरण कर गरीबों,जरूरत मंद की सेवा की।
उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार आत्म निर्भर भारत के सपनों को साकार करने में जुटी है।स्थानीय उत्पाद को बढ़ावा देकर,हुनर मंद को काम से जोड़कर ,कृषि व्यवस्था में बदलाव लाकर ,अपने खनिज संसाधनों का उपयोग बढ़ाकर देश की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने में जुटी है।

You May Also Like

More From Author